अमन चैन की दुआ के साथ कानपुर में शांति और सदभाव के साथ मनाई गई बकरीद

महिलाओं ने भी अदा की नमाज

सुनील बाजपेई

कानपुर। आज यहां गुरुवार को बदली , वर्षा और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच ईद-उल-अजहा की का त्योहार शांति औरसदभाव के साथ मानाया गया। इस दौरान नमाज अदा कर नमाज‍ियों ने अमन की दुआ मांगी। इस दौरान शहर में संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा को लेकर तैनात पुलिस बल सीसी कैमरों से निगरानी भी करवाता रहा। साथ ही सड़कों पर अध‍िकार‍ियों के साथ पीएसी में पैदल मार्च भी क‍िया।
आज फेथफुलगंज व सुजातगंज ईदगाहों में पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी सामूहिक रूप से नमाज अदा की। नमाज के बाद देश में खुशहाली, अमन, सौहार्द व भाईचारे की दुआ की गई। नमाज के बाद जानवरों की कुर्बानी दी गई। नमाज के दौरान सुरक्षा को लेकर पुलिस बल तैनात रहा।
आज यहां गुरुवार को सुबह सेईद-उल-अजहा की नमाज के लिए ही ईदगाहों व मस्जिदों में पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। बेनाझाबर स्थित मरकजी ईदगाह में सुबह 7:30 बजे नमाज का समय निर्धारित था। यहां छह बजे से ही लोग आना शुरू हो गए। नमाज से पहले लोगों से अपील की गई की ईदगाह के बाहर न बैठे। यहां मौलाना शकील ने नमाज अदा कराई। नमाज के बाद खुतबा (संबोधन) हुआ। दुआ के बाद एक दूसरे को गले मिलकर मुबारकबाद दी गई।
इसी तरह से छोटी ईदगाह, ईदगाह उस्मानपुर, ईदगाह मछरिया, ईदगाह गद्दियाना सहित मस्जिदों में भी ईद-उल-अजहा की नमाज अदा की गई। अहले हदीस मसलक की ईदगाहों में पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी सामूहिक रूप से नमाज अदा की। महिलाओं के लिए पर्दे की व्यवस्था की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *