अयोध्या : कावंड़ियों का जत्था बस्ती रवाना, लखनऊ-गोरखपुर हाईवे 16 तक बंद

बिपिन तिवारी

अयोध्या।
======= रामनगरी के सरयू तट पर बुधवार को कावंड़ियों का बड़ा समागम दिखा। लाखों की संख्या में अयोध्या पहुंचे कावंड़िये स्नान के बाद बस्ती भदेश्वरनाथ मंदिर में जलाभिषेक जल लेकर रवाना हुए। इस कांवड़ यात्रा में बड़ी संख्या में शामिल कावंड़िये डीजे की धुन पर थिरकते हुए चल रहे हैं। कावंड़ियों की संख्या को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। लखनऊ-गोरखपुर हाईवे को 16 जुलाई तक के लिए बंद कर दिया गया है।
राम नगरी अयोध्या भगवान शिव के जयकारे से गूंज उठी। लाखों की संख्या में पहुंचे कावंड़ियों ने सरयू नदी में स्नान के बाद सरयू तट पर स्थित नागेश्वरनाथ मंदिर में जलाभिषेक किया। इसके बाद हनुमानगढ़ी और रामलला के भी दर्शन किए। रामलला के दरबार पहुंचते ही शिव भक्तों ने भगवान श्री राम के जयकारे और बोल बम के नारे भी लगाए। शाम होते ही कावंड़ियों का जत्था बस्ती भदेश्वरनाथ के लिए रवाना होने लगा।
इस यात्रा में भगवान शिव की आकर्षक झांकी दिखी तो यात्रा में जल लेकर रवाना हुए कावंड़िये रंगीन लाइटों के बीच डीजे की धुनों पर भगवान शिव के भजनों पर झूमते दिखाई दिए। बता दें कि बुधवार से प्रारम्भ हुई यात्रा 2 दिन के बाद बस्ती पहुंचेगी। 15 जुलाई को सावन कृष्ण पक्ष त्र्योदशी को शिवरात्रि के पर्व पर बाबा भदेश्वर नाथ का जलाभिषेक किया जायेगा।
अयोध्या में सरयू तट से निकली कांवड़ यात्रा को लेकर सुरक्षा व्यवस्था भी सख्त रही। अयोध्या से बस्ती के बीच शुरू हुई कांवड़ यात्रा में शामिल कावंड़ियों की संख्या को देखते हुए एनएच 27 पर लखनऊ से गोरखपुर नेशनल हाइवे को बंद कर दिया गया है। ड्रोन कैमरे से इस यात्रा की निगरानी की जा रही है। आईजी अयोध्या प्रवीण कुमार ने बताया की लाखों की संख्या कावंड़िये आये हैं। सरयू का जल लेकर यात्रा की प्रक्रिया आरम्भ हो चुकी है। यात्रा की सुरक्षा को लेकर यातायात प्रबंध कर रहे हैं। अयोध्या से बस्ती के बीच पूरी तरह वाहनों का संचालन बंद कर दिया गया है। लखनऊ की तरफ से आने वाले भारी वाहन को रोक दिया गया है।
रामनगरी के ऐतिहासिक सावन झूला मेला के बीच कावंड यात्रा को सकुशल संपन्न कराने के लिये सबसे बड़ा 132 घंटे का रूट डायवर्जन लागू किया गया है। इस दौरान कांवड़ियों और श्रद्धालुओं की सहूलियत के लिए लखनऊ-गोरखपुर हाइवे के बजाय वाहन वैकल्पिक मार्ग से आएंगे और जाएंगे।
इस दौरान आकस्मिक वाहन, एंबुलेंस, फायर व अन्य आवश्यक वस्तु के वाहनों को छोड़ गोरखपुर की ओर से आने-जाने वाले वाहनों को कौड़ीराम, बड़हलगंज, दोहरीघाट, जीयनपुर, आजमगढ़ से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, सहजनवा, बस्ती, कलवारी, टांडा से अकबरपुर-दोस्तपुर के रास्ते पूर्वांचल एक्सप्रेस वे व संतकबीरनगर, बांसी, मेंहदावल,डुमरियागंज, उतरौला, बलरामपुर, गोंडा, जरवल रोड, चौकाघाट, बद्दोसराय के रास्ते सफदरगंज,लखनऊ मार्ग पर चलेंगें।
कानपुर की तरफ से आने वाले वाहन उन्नाव, रायबरेली, बछरावा, हैदरगंढ़ व फतेहपुर, डलमऊ, रायबरेली के जगदीशपुर से,आगरा एक्सप्रेस वे से आने वाले वाहन मोहान, जुनाबगंज, मोहनलालगंज, गोसाईगंज के रास्ते,सीतापुर-शाहजहाँपुर से आने वाले वाहन आईआईएम रोड दुबग्गा से आलमबाग, नहरिया से शहीदपथ होते हुए अहीमामऊ होते हुए पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के रास्ते गोरखपुर जाएंगे। बलरामपुर, श्रावस्ती से लखनऊ जाने वाले वाहन गोंडा, कर्नेलगंज से जरवल रोड वाया चौकाघाट, बद्दोसराय, सफदरगंज और बहराइच से आने वाले वाहन वाया कर्नेलगंज, जरवल रोड, चौकाघाट, बद्दोसराय, सफदरगंज से लखनऊ आएंगे और जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *