गोष्ठी में किसानों को दी गई गन्ने में लग रहे रोग से बचाव की जानकारी

जयपाल सिंह गोेला

छजलैट। जिला गन्ना अधिकारी एवं ज्येष्ठ विकास निरीक्षक अगवानपुर ने गन्ना प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया। आयोजित गोष्ठी में किसानों को गन्ना में लग रहे रोग एवं इससे बचाव की जानकारी दी गई।

            जिला गन्ना अधिकारी मुरादाबाद रामकिशन एवं ज्येष्ठ विकास निरीक्षक अकबरपुर शीराज मलिक ने गन्ना प्रभारी ग्राम मुड़िया मोहिद्दीनपुर और ग्राम मोरा के जंगलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि दीवान शुगर मिल क्षेत्र की लगभग 2000 हेक्टेयर से अधिक गन्ना की फसल रोग से प्रभावित हो चुकी है। ग्राम मुड़िया के पंचायत भवन में आयोजित गोष्ठी में अधिकारियों ने बताया कि नदियों के आसपास बसे ग्रामों के जंगल में जल भराव से भारी तबाही हुई है।

     उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के गन्ने के खेतों में जलभराव से गन्ने में रेड रॉट नामक बीमारी लग चुकी है। उन्होंने बताया कि इस रोग को गन्ने का कैंसर भी कह सकते हैं। गन्ने में रेड रॉट रोग लगने के मुख्य कारण कोलेट्रोट्रिकम नामक कवक, संक्रमित गन्ना बीज, संक्रमित मृदा से एवं पानी के जल भराव से होता है। उन्होंने कहा कि गन्ने की उत्तम पैदावार के लिए आगामी शरद कालीन बुवाई में गन्ने की 0238 प्रजाति को विस्थापित करके नई गन्ने की प्रजातियां 15023, 13235, 14201 एवं 0118 आदि की बुवाई की जानी चाहिए। इस मौके पर एससीडीआई ठाकुरद्वारा एवं किसान भारी संख्या में मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *