दीपावली पर्व पर कटान-पीड़ितों में खुशियां बांट रहे डॉ.कौशल वर्मा,

जला रहे उम्‍मीदों का दीया

लखनऊ सुपरफास्ट ब्यूरो
बिजुआ खीरी।
खुशियां बटोरने से नहीं, उन्हें बांटने से मिलती हैं। दौलत की खुशी रखने से नहीं, खर्च करने से मिलती है। खुशियां बाजार में नहीं मिलती खुशियां तो गैरों को भी, अपना बनाने से मिलती हैं। कुछ इसी फलसफे पर आगे बढ़ रहे हैं छोटी काशी गोला के ये समाजसेवी डॉक्टर कौशल वर्मा। डॉ कौशल ने दीपावली से दो दिन पहले धनतेरस के दिन कटान पीड़ितों के बीच पहुँचकर उनके साथ खुशियां बांट रहे हैं। उनमें उम्‍मीदों की रोशनी भर रहे हैं।
शुक्रवार की सुबह कटान पीड़ितों के बीच पहुँच डॉ कौशल वर्मा ने दीपावली के गिफ्ट वितरित किए जिसे पाकर बच्चे चहकने लगे। इस दीपावली पर डॉक्टर कौशल वर्मा इन कटान पीड़ितों की झुग्गियों में घूम कर जरूरतमंदों को त्योहार की खुशियां बांट रहे हैं। इस कार्य में अपने कुछ  साथियों का भी सहयोग ले रहे हैं। डॉक्टर कौशल वर्मा बताते हैं कि करीब 35 परिवारों को दीये, मिठाइयां, आटा, तेल, चावल, चीनी, दाल, आलू, नमकीन, मोमबत्ती, दियाली और बच्चों के लिए फुलझड़ी बांट चुके हैं। वह कहते हैं कि बहुत कुछ तो वह नहीं दे सकते पर कोशिश है कि कुछ हद तक उपयोगी आवास वस्तुओं के जरिए लोगों तक खुशियां पहुंच जाए, जिससे सभी के मन-मस्तिष्क में त्योहार की खुशी की उमंग का संचार हो।
        समाजसेवी डॉक्टर कौशल वर्मा ने बताया कि उन्होंने समाचार पत्रों के माध्यम से बाढ़ पीड़ितों की हालत जानकर यह ठाना था कि इस बार धनतेरस के दिन इन कटान पीड़ितों के बीच पहुँचकर इनको उपहार भेंट कर, इस त्यौहार का आनन्द लिया जाएगा । जिसे धनतेरस के दिन सुबह पहुँचकर लोगो को गिफ्ट देकर सच साबित कर दिया। इस मौके पर कटान पीड़ित लोगो ने समाजसेवी डॉक्टर कौशल वर्मा की भूर भूर प्रसंसा की।
    इस मौके पर डा. कौशल वर्मा के साथ सुशील पाण्डेय, एड.आनन्द अर्कवंशी, दिनेश वर्मा, रफी अहमद कमल, सुमित आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *