देर रात तक भरतकुंड महोत्सव में तृप्ति शाक्या के भजनों पर झूमते नाचते रहे दर्शक

बीकापुर- अयोध्या। भरतकुंड महोत्सव में चतुर्थ दिवस भक्ति गीतों के सिरमौर गायिका तृप्ति शाक्य भरत कुंड महोत्सव के मंच पर अपने प्रसिद्ध भजन कभी राम बनके कभी श्याम बनके, श्याम चूड़ी बेचने आया, सत्यम शिवम सुंदरम, मनिहारी का वेश बनाया और भरत जी पर भजनों को गाकर उपस्थित जन समूह को झूमने और नाचने पर मजबूर कर दिया । इस ऐतिहासिक कार्यक्रम को देखने के लिए दूर-दूर से लगभग 15,000 लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी। उससे पूर्व एनसी जेड सीसी संस्कृति मंत्रालय से आई कलाकार, संगीता आहूजा की पूरी टीम राम भरत मिलाप के कार्यक्रम का भावपूर्ण मंचन कर सबको मंत्र मुग्ध कर दिया , चतुर्थ दिवस सी ओ बीकापुर राजेश तिवारी , एस ओ  रतन कुमार शर्मा ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की । कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जितेंद्र दुबे मिंटू प्रधान, योगेश मिश्रा, संतोष मिश्रा , रमाकांत द्विवेदी, विनय पांडे, पंकज पाठक, बृजमोहन तिवारी, अनुजेंद्र तिवारी, शिवम् मिश्रा, कार्तिक पंडित,  शरद तिवारी, आशीष पांडेय, राजकिशोर पांडे, राधेश्याम शुक्ल, रोहित शर्मा , शुभम, दिवाकर, दीपक, अनीता सिंह, रश्मि सिंह , सपना मोदनवाल, श्रीमती आदि लोग मौजूद रहे ।भरत कुंड महोत्सव अध्यक्ष अंजनी कुमार पांडे, मुख्य व्यवस्थापक रामकृष्ण पांडेय, संस्थापक सचिव अंबरीष चन्द्र पाण्डेय के के साथ मांडवी मंच प्रबंधक रीता तिवारी, अध्यक्ष प्रियंका शर्मा ने तृप्ति शाक्य को अंगवस्त्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया । महोत्सव के पांचवें दिन बालक एवं बालिका वर्ग की कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन श्री लाल शुक्ल और महोत्सव खेल प्रभारी चंद्रशेखर तिवारी, अंशिका सिंह के तत्वाधान में हुआ जिसमें जीएस अकैडमी, भारती इंटर कॉलेज, देश दीपक कॉलेज, पानी संस्थान और स्पोर्ट्स स्टेडियम डाभा सेमर की कई टीमों ने हिस्सा लिया । विजेता टीमों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *