बीकापुर : कार्रवाई होती तो बच सकती थी जान

बिपिन तिवारी

बीकापुर_अयोध्या।
============= भूमि विवाद को लेकर सगे चाचा के परिवारीजनों द्वारा की गई राघवेंद्र की हत्या से मृतक के परिवार में कोहराम मच गया है।
मृतक के पिता सुरेंद्र कुमार पांडेय ने बताया कि विपक्षियों ने कई बार उनकी भूमि पर कब्जेदारी और विवाद पैदा किया। तहसील और कोतवाली में कई बार शिकायती पत्र दिया लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। आखिर में उनके पुत्र को जान गंवानी पड़ी। कहा, राजस्व कर्मी और पुलिस मामले को गंभीरता से लेती तो बेटा जीवित होता।
बताया जाता है कि मृतक और आरोपी सगे पाटीदार हैं। इनके घर के आसपास बंजर की भूमि है जिस पर कब्जेदारी को लेकर दोनों पक्षों का काफी समय से विवाद चला आ रहा है। घटना के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *