भारत सरकार के नोडल अधिकारी ने की बैठक, जानी रणनीति

पूरी भव्यता और दिव्यता के साथ मनाए जनजाति गौरव दिवस : नोडल

लखनऊ सुपरफास्ट ब्यूरो विक्रम सिंह
लखीमपुर खीरी
योजनाओं की संतृप्तीकरण के लिए आउटरीच गतिविधियों के माध्यम से जागरूकता बढ़ाने के लिए 15 नवंबर से 26 जनवरी तक “विकसित भारत संकल्प यात्रा” के तहत जनजातीय क्षेत्र में “जनजाति गौरव दिवस” के सफल आयोजन के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में भारत सरकार से नामित नोडल अधिकारी डिफेंस डायरेक्टर, भारत सरकार निखिल सक्सेना ने डीएम महेंद्र बहादुर सिंह सहित सभी जनपदीय अधिकारियों संग बैठक की गयी।
बैठक की शुरुआत में नोडल अधिकारी ने अफसरो से उनका परिचय एवं आयोजन में भूमिका जानी। डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए “जनजातीय गौरव दिवस” के पूरी भव्यता और दिव्यता से मनाए जाने के विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली गतिविधियों के संबंध में विस्तृत एवं बिंदुवार जानकारी दी।
डीएम ने नोडल के साथ 15 नवंबर से खीरी जिले के सुदूरवर्ती, सीमावर्ती क्षेत्र में बसे 24 थारू बाहुल्य गांव में आयोजित कार्यक्रम पर अपनी रणनीति साझा की। उन्होंने कहा कि 15 नवंबर को तहसील व ब्लॉक पलिया के ग्राम धुसकिया में मुख्य कार्यक्रम होगा, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री भारत सरकार एवं खीरी सांसद अजय मिश्रा टेनी शिरकत करेंगे। उन्होंने आश्वस्त किया कि उनकी पूरी टीम इस कार्यक्रम को पूरी भव्यता और गरिमा के साथ संपन्न कराएगी। सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने भी आयोजन के संबंध में प्रगति बताई।
बैठक के दौरान नोडल अधिकारी निखिल सक्सेना ने कहा कि “जनजाति गौरव दिवस” जनपद में पूरी भव्यता और दिव्यता के साथ मनाया जाये। इसके लिए सभी जरूरी तैयारियां समय से पूर्ण कर ली जाएं। उन्होंने दिवसवार नामित अधिकारियों को निर्देश दिया कि कार्यक्रम के सफल आयोजन को एक चुनौती के रूप में स्वीकार करते हुए पूरे मनोयोग से कार्य करें। कार्यक्रम से संबंधित फोटो एवं वीडियो अपने लॉगिन के जरिए समयबद्ध रूप से फीड कराए, इसे डीआईओ (एनआईसी) स्वयं सुनिश्चित कराए। मुख्य कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के प्रस्तुति के साथ ही साथ विभिन्न विभागों द्वारा केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं से सम्बन्धित प्रदर्शनी भी लगाई जाए।
उन्होंने कहा कि प्रमुख योजनाओं का लाभ लक्षित लाभार्थियों तक समयबद्ध तरीके से पहुंचाने एवं इस दिशा में नागरिकों को उपलब्ध लाभों और विभिन्न सुविधाओं के बारे में जागरूता सुनिश्चित करते हुए समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजना की पहुॅच को सुगम बनाये जाने के उद्देश्य से जनजातीय क्षेत्रों में “जनजाति गौरव दिवस” मनाया जा रहा है।

जिले पर बना कंट्रोल रूम, डीडीओ होंगे नोडल

“जनजाति गौरव दिवस” को सफलता से संपन्न करने के उद्देश्य से डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने विकास भवन में डीडीओ दिनकर विद्यार्थी की अगुवाई में कंट्रोल रूम की स्थापना की। कंट्रोल रूम का नंबर 05872-359457, 94544 65383 है। डीडीओ सभी अधिकारियों से समन्वय करते हुए कार्यक्रम को निर्विघ्न, सकुशल एवं पूरी भव्यता से सुनिश्चित करने के लिए समन्वयकर्ता की भूमिका अदा करेंगे। जो सभी जरूरी सूचनाओं को संबंधित अधिकारियों के लोगों से फीड करने में आ रही समस्याओं को ड्यू निक की सहायता से हल भी कराएंगे।

डीएम ने दिवसवार बनाए नोडल अधिकारी

डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि प्रत्येक दिवस के लिए 02 ग्राम पंचायतें चिन्हित कर उनके डे-आफीसर नामित किए है। उन्होंने 15 नवंबर को ब्लॉक पलिया के ग्राम रामनगर एवं धुसकिया कार्यक्रम के लिए डीपीआरओ नोडल अधिकारी नामित किया है। वही 16 नवंबर को सिगाहिया एवं कजरिया के लिए डीसी मनरेगा, 17 नवंबर को बनकटी एवं भूडा के लिए डीडीओ, 18 नवंबर को सरियापारा एवं मसानखम्भ के लिए जिला कार्यक्रम अधिकारी, 19 नवंबर को ढकिया एवं पिपरौला के लिए जिला समाज कल्याण अधिकारी, 20 नवंबर को निझौटा एवं देवराही के लिए पीडी डीआरडीए, 21 नवंबर को सौनहा एवं ध्यानपुर के लिए डीएसओ, 22 नवंबर को सूरमा एवं पुरैना के लिए बीएसए, 23 नवंबर को बरबटा एवं परसिया के लिए डीपीआरओ, 24 नवंबर को बेलापरसुआ एवं मोहबतियाबेहड़ के लिए डीसी एनआरएलएम, 25 नवंबर को पचपेडा व पोया के लिए डीडी कृषि, 26 नवंबर को सूडा व छेदियापूरब के लिए जिला कृषि अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *