मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने पदयात्रा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में दिव्यांगजनो का किया उत्साहवर्धन

दिव्यांगजनो द्वारा मनमोहक सांस्कृतिक प्रस्तुति की

पदयात्रा में दिव्यांगजनो के साथ चले दिव्यांगजन मंत्री

प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के साथ खड़े होकर उनके हितों का ध्यान रख रही है

दिव्यांगजनों को हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दिखाने के अवसर मिल रहे है

मंडल एवं जनपद स्तर पर दिव्यांगजनों के लिए आयोजित किये जा रहे है कार्यक्रम

दिव्यांगजनों के आवागमन को सुगम बनाया जा रहा है

प्राथमिक से लेकर उच्च शिक्षा देने के साथ ही रोजगारपरक प्रशिक्षण दिव्यांगजनों को दिया जा रहा है

दिव्यांग पेंशन के माध्यम से दिव्यांगजनों को दी जा रही है आर्थिक सहायता

लखनऊ सुपरफास्ट

लखनऊ । प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के साथ खड़े होकर उनके हितों का ध्यान रख रही है। दिव्यांगजनों को हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दिखाने के अवसर प्रदान किये जा रहे हैं। दिव्यांगजनों के आवागमन को सुगम बनाया जा रहा है। इसके अलावा दिव्यांगजनों को प्राथमिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा देकर शिक्षित किया जा रहा है। इसके अलावा रोजगार प्रशिक्षण देकर दिव्यांगजनों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जा रहे है। दिव्यांग पेंशन के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। मंडल एवं जनपद स्तर पर दिव्यांगजनों के लिए कायर्क्रम आयोजित किये जा रहे है, जिससे वे अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे है। उक्त बातें रविवार को प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नरेन्द्र कश्यप ने कही।

दिव्यांगजन मंत्री एमफी० थियेटर, डा० राम मनोहर लोहिया पार्क, गोमतीनगर, लखनऊ में आयोजित पदयात्रा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग कर दिव्यांगजनो का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्पर्श राजकीय दृष्टिबाधित बालिका इण्टर कालेज की बालिकाओं द्वारा स्वागत गीत (झूम-झूमों रे सखी री) गाकर स्वागत किया गया तथा स्टेज परफार्मेन्स में राजकीय संकेत विद्यालय के बालकों द्वारा मां तुझे सलाम गीत पर डान्स किया गया, स्वैच्छिक संस्था स्टडी हॉल के दिव्यांग बच्चों द्वारा गीत (के सरा-सरा) गाया गया, परवरिश स्कूल के ऑटिज्म दिव्यांगता से ग्रसित बच्चों द्वारा गीत गाया गया तथा बचपन डे केयर सेन्टर के दिव्यांग बच्चों द्वारा योग का प्रस्तुतीकरण किया गया।

मंत्री कश्यप ने पदयात्रा (वॉकथान) का शुभारम्भ फ्लैग ऑफ कर किया तत्पश्चात 21 प्रकार की दिव्यांगता से ग्रसित दिव्यांगजन एवं उनके साथ सहयोगी पदयात्रा में शामिल हुए। कार्यक्रम में कुल 27 विद्यालय व स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। इस प्रकार लगभग 600 से अधिक व्यक्तियों द्वारा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया।

समावेशी प्रदेश उत्तर प्रदेश पदयात्रा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम दिव्यांगता के क्षेत्र में जनपद लखनऊ में कार्यरत स्वैच्छिक संस्थाओं, शिक्षण संस्थाओं, समाजसेवी कार्यकर्ताओं, दिव्यांगजन के सहयोग एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के समन्वय द्वारा समावेशी परिकल्पना से युक्त (समावेशी प्रदेश उत्तर प्रदेश) थीम पर समावेशी परिकल्पना को धरातल पर साकार करने एवं समाज को एक संदेश देने के उद्देश्य से सभी प्रकार के दिव्यांगजनों को लेकर वाकॅथान एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण सुभाष चन्द्र शर्मा सहित विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *