सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डा.बलजीत कौर राज्य की ई.सी.सी.ई. नीति में आवश्यक बदलाव करने के लिए शिक्षा विभाग के साथ की महत्वपूर्ण बैठक

कहा, हर बच्चे को विकास के लिये देखभाल और सही वातावरण की जरूरत

मोहित कोछड़

चंडीगढ़-सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डा. बलजीत कौर की अध्यक्षता में आज राज्य में अरली चाइल्डहुड केयर एंड एजुकेशन (ईसीसीई) नीति को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए शिक्षा विभाग के साथ अपने कार्यालय, पंजाब सिविल सचिवालय, चंडीगढ़ में एक महत्वपूर्ण बैठक की गई।

इस संबंध में अधिक जानकारी देते कैबिनेट मंत्री डा.बलजीत कौर ने कहा कि 0-6 वर्ष की अवधि प्रत्येक बच्चे के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है जब उन्हें शारीरिक, भावनात्मक, मनोवैज्ञानिक और सामाजिक समर्थन की सबसे अधिक आवश्यकता होती है क्योंकि यह उनके भविष्य की नींव रखता है। इस संदर्भ में, ई.सी.सी.ई एक सुरक्षात्मक वातावरण में स्वास्थ्य देखभाल, पोषण, खेल के तरीके और प्रारंभिक शिक्षा के पहलुओं पर जोर दिया गया है जो बच्चों के समग्र विकास के लिए बेहद फायदेमंद है।

उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति, 2020 के चलते राज्य की ईसीसीई नीति में जरूरी बदलाव करने के लिए शिक्षा विभाग एवं सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आवश्यक संशोधन करने उपरांत अपडेट नीति 31 जुलाई 2023 तक तैयार की जानी है।

इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास श्रीमती राजी पी. श्रीवास्तव, निदेशक श्रीमती माधवी कटारिया, डीपीओ अमरजीत सिंह, सुखजीत सिंह एवं शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि विशेष रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *