3 दिन की पुलिस रिमांड पर आरोपी पूछताछ में खुलेगी हकीकत

अफसर की टीम करेगी पूछताछ आखिर कैसे बना हत्या का प्लान ?

क्राइम ब्यूरो रोहित वर्मा

कानपुर रायपुरवा थाना क्षेत्र के आचार्य नगर निवासी कपड़ा कारोबारी मनीष कनोडिया के बेटे कुशाग के अपहरण हत्या के मामले में कोर्ट ने तीन दिनों आरोपित प्रशांत शुक्ला रचिता व शिव गुप्ता की तीन दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर ली इसी कड़ी में आज रविवार को सुबह 9:00 बजे तीनों आरोपियों को पुलिस के सुपुत्र कर दिया गया इन तीन दिनों मे पुलिस अपहरण हत्याकांड में सभी आरोपियों की भूमिका से लेकर पूरी कहानी से पर्दा उठाएगी दसवीं के छात्र कुशाग्र की 30 अक्टूबर को अपहरण कर के बाद हत्या कर दी गई थी इसके बाद परिजनों से 30 लख रुपए की फिरौती मांगी गई थी प्रकरण में पुलिस ने मुख्य आरोपी प्रभात शुक्ला उसकी प्रेमिका रचिता और शिव गुप्ता को गिरफ्तार करके प्रभात के घर से कुशाग्र की लाश भी बरामद कर ली थी तीनों को पुलिस ने जेल भेज दिया था लेकिन उसे सवालों के जवाब जानने के लिए पुलिस ने कोर्ट से तीनों की 5 दिनों की कस्टडी रिमांड मांगी थी कोर्ट के 3 दिन की डिमांड मंजूर की पुलिस तीनों को जेल से अपनी कस्टडी में सुबह 9:00 बजे लेकर उसका मेडिकल करावेगी बुधवार सुबह 9:00 बजे आरोपियों को जेल में फिर से दाखिल करना होगा आरोपियों से जिन अफसरों के नेतृत्व में पूछताछ होगी उनकी एक टीम का गठन किया गया है आरोपियों से सवाल के लिए सवालों की सूची तैयार कर ली गई है तीनों को ले जाकर वारदात के दिन का पूरा सीन एक्ट करवाया जाएगा इससे पता चल चल सकेगा कि प्रभात कैसे कुशाग्र को बातों में फुसलाकर अपने घर पर लेकर पहुंचा? वहां कुशाग्र् को कैसे मारा? इसके बाद पास के कमरे में मौजूद रचिता और शिव से क्या बातें हुई? शव को कहां ठिकाने लगाना था ?और आगे का क्या प्लान था? जैसे तमाम सवालों के जवाब मिलने की उम्मीद है पूछताछ जेसीपी आनंद प्रकाश तिवारी की निगरानी में तीनों अफसर की टीम करेगी और इसकी वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *